Saturday, 9 March 2013

चलो आज सन्डे मनाते हैं


चलो आज सन्डे मनाते हैं
--------------------------------------------

बीते सप्ताह की थकान मिटाते हैं
चलो आज सन्डे मनाते हैं
टूट चुकी आशाओ को फिर से जागते हैं
चलो आज सन्डे मानते हैं
तेरी मेरी सबकी सुनते सुनाते हैं
चलो आज सन्डे मनाते हैं
घर के कुछ काम निपटाते हैं
चलो आज सन्डे मनाते हैं
रूठो को मानते हैं मिलकर उधम मचाते हैं
चलो आज सन्डे मनाते हैं
परिवार और दोस्तों संग घुमने चलते हैं
चलो आज सन्डे मनाते हैं
चलो आज हम सब मिलकर फनडे मानते हैं
चलो आज सन्डे मनाते हैं
 

नील  
Post a Comment
Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...